कस्टम अधीक्षक सौरभ सिंह ने की,पत्रकारों के साथ बदसलूकी।ब्यूरो बहराइच।

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

बहराइच/रुपईडीहा
“””अनुराग शर्मा के साथ साकेत वर्मा”””

कस्टम अधीक्षक सौरभ सिंह ने की पत्रकारों से बदसलूकी
भारतीय दूतावास के चीफ सेके्रट्री की कवरेज करने से रोका

रुपईडीहा बहराइच ……भारत नेपाल सीमा रूपईडीहा, बहराइच का है। शुक्रवार की सुबह 11 बजे पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार नेपाल के व्यापारियों के साथ किए जाये रहे दुव्र्यवहार व अवैध वसूली के संबंध मे समस्याओं के निराकरण हेतु लैण्ड कस्टम रूपईडीहा मे एक बैठक आयोजित थी
.बैठक मे नेपालगंज उद्योग व्यापार संघ के अध्यक्ष नन्दलाल वैश्य, महामंत्री अजय टण्डन, नेपाली मीडिया कर्मी झलक गैरे सहित नेपाल के प्रतिष्ठित व्यापारी, कस्टम के डिप्टी कमिश्नर प्रदीप सिंह सेंगर, काठमांडू स्थित भारतीय दूतावास के चीफ सेके्रट्री वाणिज्य प्रभजीत सिंह गुलाटी मौजूद थे। स्थानीय मीडिया कर्मी जब इस महत्वपूर्ण बैठक की कवरेज करने पहुंचे तो कस्टम अधीक्षक सौरभ सिंह ने पत्रकारों से कहा कि आप लोग बैठक मे नही जा सकते और धक्का देकर बाहर निकाल दिया। पत्रकारों ने कहा कि भारत नेपाल के संबंध मे आयात-निर्यात तथा अवागमन की कवरेज करना आवश्यक है तो उन्होने अपमानित करते हुए सभी मीडिया कर्मी को जाने नही दिया।
यहां तो बर्बरता की मिसाल की हद को ही पार कर दी जहां एक ओर केन्द्र व प्रांतीय सरकार ने अधिकारियों को हिदायत दे रखी है कि विभागों मे पारदर्शिता लाने के लिए पत्रकारों को सम्मान देते हुए उन्हे शासन प्रशासन की नीतियों के बारे मे प्रेस नोट के माध्यम से अवगत कराये। दूसरी और सौरभ सिंह दो वर्ष से अधिक सयम से तैनात है। नियमानुसार सभी अधिकारियों का लैण्ड कस्टम रूपईडीहा से स्थानान्तरण हो चुका है। परन्तु अपना ऊंची पहुंच के कारण ये अभी तक जमे हुए है। पत्रकारों ने सौरभ सिंह के विरूद्ध थाने मे प्रार्थना पत्र देकर अपने को अपमानित महसूस करते हुए पत्रकार मनीराम शर्मा, राजेश सिंह, संजय वर्मा, नबी अहमद, रामजी सोनी, अमित मदेशिया, भीमसेन नायक, श्याम कुमार मिश्रा, सुभाष जायसवाल तथा सुरेश मदेशिया आदि पत्रकारों ने थाना प्रभारी निरीक्षक आलोक राव को सौरभ सिंह के विरूद्ध आवश्यक कार्यवाही हेतु प्रार्थना पत्र दिया है। प्रार्थना पत्र मे यह भी कहा गया है कि अगर इसके खिलाफ कार्यवाही नही हुई तो हम लोग लामबंद होकर धरना प्रदर्शन करने के लिए बाध्य हो जायेगे।

Anurag

Anurag

Byuro Chief Bahraich

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: