वजूद में शामिल है पंजाबियत — Pravakta | प्रवक्‍ता.कॉम : Online Hindi News & Views Portal of India

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

अनिल अनूप अपने अस्तित्व के 47 सालों बाद भी हिमाचल अपने वजूद से पंजाबियत को अलग नहीं कर पाया है। माना कि पहले हिमाचल पंजाब का ही हिस्सा था, पर आज यह अलग राज्य है। इसका अपना अस्तित्व है, पर लगता है जैसे यह सिर्फ नाम का ही है। जरा हिमाचल के किसी नेशनल हाई-वे……

via वजूद में शामिल है पंजाबियत — Pravakta | प्रवक्‍ता.कॉम : Online Hindi News & Views Portal of India

Anil Anup

Anil Anup

राज्य ब्यूरो प्रभारी पंजाब, हिमाचल, हरियाणा और जम्मू-कश्मीर l

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: