अमेठी जिले की शाम 7 बजे तक की खास खबरें कौशल किशोर मिश्रा ब्यूरो चीफ अमेठी से

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

खलिहान और एसडीएम न्यायालय, गौरीगंज मे बटवारे के लिए विचाराधीन जमीन मे शौंचालय निर्माण का प्रयास’

शाहगढ़/अमेठी। शाहगढ़ विकास खंड के चिलबिली ग्राम निवासी राम सजीवन शुक्ल व उनके पट्टीदार रणजीत शुक्ल एक सहखाते के संयुक्त स्वामी हैं। जिस पर रणजीत शुक्ल ने जून, 2017 को गौरीगंज एस0डी0एम0 के न्यायालय मे बटवारे का वाद दायर किया है। इसी जमीन पर जून के ही पहले सप्ताह मे शौंचालय निर्माण करने की कोशिश रणजीत शुक्ल ने किया था जिसमे जांच मे पाया गया था की शौंचालय का कुछ हिस्सा खलिहान की सुरक्षित जमीन मे जा रहा है तथा अन्य हिस्सा सहखाते की जमीन पर। उस समय शाहगढ़ पुलिस चैकी मे हुये सुलहनामा के तहत काम बंद करा दिया गया था। एक बार फिर रणजीत शुक्ल ने उसी जगह शौंचालय बनाना शुरू किया, लेकिन दूसरे पक्ष राम सजीवन शुक्ल की तरफ से राजेश शुक्ल ने एसडीएम गौरीगंज से इस मामले मे शिकायत किया। जिसके बाद मौके पर प्रशासन की मदद से काम रोक दिया गया है।

अन्त्योदय सूची में नाम डलवाने के लिए दर दर भटक रही पीड़िता

अमेठी। विकासखण्ड अमेठी के अन्तर्गत प्रार्थिनी ऊषा देवी पत्नी रामदुलारे वर्मा,, विमला पत्नी बाबूलाल, कृष्णकुमारी पत्नी रमाकान्त, विमला पत्नी रामआसरे निवासी ग्राम मउहरिया मजरे बरियापुर ने अपने दिये गये शिकायती पत्र के माध्यम से उपजिलाधिकारी अमेठी को बताया कि 2006 के अन्त्योदय सूची में नाम शामिल किया गया था। परन्तु चारों कार्ड धारको की माने तो वर्तमान ग्राम प्रधान ने उक्त उपभोक्ताओं का नाम सूची से कटवा दियां और अपनी बहन व अपने नौकर सहित अपने चहेतो के नाम अन्त्योदय सूची मे नाम डलवा दिया। सप्लाई इंस्पेक्टर से शिकायत करने के बावजूद उसकी कोई सुनवाई नही की गयी। अन्त में चारो उपभोक्ताओ ने मामले की शिकायत उपजिलाधिकारी अमेठी से की है। जब इसकी जानकारी सप्लाई इंस्पेक्टर अमेठी के मोबाइल नं0 9455403035 पर फोन किया गया। तो उन्होनें कोई बात न करके फोन काट दिया।

इण्टरलाकिंग खडण्जा की निर्माण की अनियमितता की शिकायत उपजिलाधिकारी से

अमेठी विकासखण्ड अमेठी अन्तर्गत प्रधान द्वारा लगाये गये इण्टरलाकिंग खडण्जा के अनियमितता की शिकायत पीड़ित ने उपजिलाधिकारी अमेठी से किया। मानदेय से जांच कराये जाने की मांग की। प्राप्त शिकायती पत्र के अनुसार महेश कुमार तिवारी सुत गौरीशंकर तिवारी निवासी ग्राम मौहरिया मजरे बरियापुर ने अपने दिये गये शिकायती पत्र के माध्यम से बताया वर्तमान ग्राम प्रधान द्वारा ग्रामसभा में कराये गये इण्टर लाकिंग कार्य जो घेर्राउ के घर से रामबली के घर तक इण्टरलाकिंग खडण्जा का कार्य कराया जो मानक के विपरीत है। इण्टरलाकिंग के पहले गिट्टी तथा मोरंग डालकर कुटाई किये जाने का प्राविधान है। जबकि प्रधान द्वारा मात्र बालू बिछवाकर इण्टरलाकिंग करा दिया है और साइड में जो पटरी बनी है उसमे पीला ईंट लगवाकर निर्माण करवाया और पेमेन्ट नं0 1 ईंट का लिया गया। कुल कार्य 384 मी0 का निर्माण किया गया तथा शौचालय निर्माण में पीला ईंट व मसाला 1/14 से निर्माण किया गया। जबकि इसका कोई टेण्डर नही निकाला गया। सारा कार्य मनमानी पूर्ण तरीके स कराया गया। पीड़ित ने उक्त मामले की जांच कराकर प्रधान के खिलाफ उचित कार्यवाही कर जंाच कराये जाने की मांग उपजिलाधिकारी अमेठी से की।

शासन के अनुरुप पेंशनरो की त्वरित निस्तारण हेतु कार्यवाही सुनिश्चित करें-जिलाधिकारी

अमेठी। जिलाधिकारी योगेश कुमार निर्देशों के क्रम में कलेक्ट्रेट सभागार में पेंशन दिवस का आयोजन किया गया है। जनपद के कार्यालयाध्यक्ष/आहरण वितरण अधिकारियों को निर्देशित किया जाता है कि वे दिनांक 17.12.2017 को स्वयं कार्यालय के किसी वरिष्ठ राजपत्रित अधिकारी पंेशन दिवस कार्यक्रम में उपस्थित रह कर शासन की मंशा के अनुरूप पेंशनरों की समस्याओं के त्वरित निस्तारण हेतु कार्यवाही सुनिश्चित करें।

आज मेरे राम की शादी

 

अमेठी। स्टेशन रोड पर 09 दिसम्बर से चल रही श्री राम कथा यज्ञ में भगवान श्री राम की शादी पर प्रेरक प्रसंग सुनकर श्रोता थिरक उठे। कथा में दिन प्रतिदिन भीड़ बढती जा रही है वही श्रद्वालु चढावा चढाने में प्रति-स्पर्धा देखने को मिल रही है।
गुरुवार को कथा व्यास मनु महाराज ने रामकथा में जनकपुरी के राजा राजा-जनक के यहाॅ सीता स्वयंवर पर रोचक वर्णन सुनाया जिसमें देश भर के सभी राजकुमारो का स्वयंवर लगा। इसी बीच जानकी स्वयं की तरफ जैसे ही पग बढाया तो उसे, राम सिया जब पगधारी देख मोह रुप सब नर नारी, जिन्दगी न टूटी नाम रट लो घड़ी दो घड़ी का संकीर्तन कर कथा व्यास रोकच प्रसंग श्रोताओ के बीच पहंुचाने में कोई कोर कसर नही छोड़ रहे है।
भगवान राम जब जनकपुर पहुचते है तो यहाॅ भगवान शिव का धनुष को उठाकर जैसे ही तरकस पर तीर कसते है। धनुष टूट जाता है इसी बीच भगवान परशुराम शिव के धनुष टूटने पर आक्रोशित हो उठते हैं और भगवान परशुराम और लक्ष्मण महाराज के बीच तीखा संवाद स्वयंवर में देखने को मिलता है लेकिन भगवान रामचन्द्र मधुर मधुर मुस्कान के बीच भगवान परशुराम का अभिवादन करते है और कहते है कि मेरे छूते ही धनुष टूट गया मैने धनुष नही तोड़ा।
कथा के यजमान पवन कुमार अग्रवाल कार्यक्रम सहयोगी पवन कुमार तिवारी बब्लू पाण्डेय आदि कथा श्रवण में पूरी तरह ध्यान मग्न है तो वही श्री रामकथा में अरविन्द कुमार सिंह अमित शर्मा विपिन सिंह मंजू विक्रम प्रताप सिंह अरविन्द कुमार सिंह, सुरेन्द्र कुमार, रामकरन गुप्ता, सूर्य नारायण, अधिवक्ता राजेन्द्र कुमार उपाध्याय, श्यामलाल यादव, राधेश्याम तिवारी, राजकुमार शुक्ला, जायसवाल आटो वक्र्स आदि ने दान दाताओ की श्रेणी में शिरकत किये।

फसल के साथ किसान का बीमा शुरु

अमेठी। फसल बीमा योजना आगामी 31 दिसम्बर तक एसबीआई जनरल इश्योरंेस में किसान बीमा राशि की प्रीमियम जमा कर सकते है अमेठी जनपद अमेठी अधिसूचित फसलें गेहू चना मटर मसूर लाही सरसों आलू है। जो फसल बीमा के अन्तर्गत 1.5 प्रतिशत बीमा की प्रीमियम जमा क फसल की बीमा के साथ किसान अपनी भी बीमा करा सकते है। सूखा बाढ़ ओला वृत्त भूस्खलन आकाशिय बिजली तूफान चक्रवात फसल की कटाई होने के 14 दिनो के अन्दर बिन मौसम वर्षात आदि से क्षति होने पर किसान अनी फसल की प्रीमियम का लाभ पा सकते है। किसान की फसल प्रभावित होती है तो इसकी शिकायत 24 घण्टे के अन्दर जिला कृषि अधिकारी, जिलाधिकारी, इंश्योरेस कं के पास अपना लिखित दावा दर्ज करायें। फसल बीमा के दौरान किसान दुर्घटना में गम्भीर रुप से घायल होता है। तो उसे 02 लाख रुपये इलाज के लिए यदि अपंग हो जाता है तो उसे विकलांगता पर अधिकतम 2 लाख सड़क दुर्घटना में या अन्य तरह की घटनाओ की मौत होने पर किसान को पंाच लाख अधिकतम बीमा कं0 से परिजनो को सहायता दी जाती है। अमेठी जिले में एक हेक्टेयर गेहू की फसल की कुल लागत 43394 रुपये है जिसका डेढ़ फीसदी प्रीमियम वे किसान बैंक शाखाओ में जमा कर सकते है जिन्होने फसली ऋण लिया है और न ही किसान क्रेडिट कार्ड योजना से लाभान्वित हुए। ऐसे किसान अपना आधार नं बचत खाता संख्या भूमि का दस्तावेज आदि का विवरण लेकर बैंक शाखा में अपना बीमा की प्रीमियम धनराशि जमा कर सकते है।
उक्त जानकारी एसबीआई जनरल इंश्योरेंस के जिला समन्यवयक ने अपनी मुलाकात के दौरान बताई है।

 

 

 

 

 

 

Ashok Shrivastav

State Head Uttar Pradesh

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: