चित्रकूट मंडल की खास खबरें अशोक श्रीवास्तव ,रीजन हेड चित्रकूट से

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

जिलाधिकारी की अगुवाई में मिशन इंद्र धनुष टीकाकरण की समीक्षा बैठक हुई सम्पन्न


जिलाधिकारी ने मिशन इन्द्र धनुष के तहत होने वाले टीकाकरण की  समीक्षा बैठक ली। उन्हांेंने कहा कि 08 जनवरी 2018 से 18 जनवरी 2018 तक कार्यक्रम चलेगा। जिसमें 0 से 2 साल के सभी बच्चों को समस्त प्रकार के टीका व वैक्सीन लगाया जाय। नोडल अधिकारियों से कहा कि आप लोग अपने-अपने क्षेत्रों का भ्रमण करें तथा ए.एन.एम. व आशाओं को सहयोग दें ताकि डू लिस्ट शत प्रतिशत बनायी जा सके। जिन नोडल अधिकारियों के पास चेकलिस्ट नहीं है वह अभी बैठक के बाद लेे लें। माह दिसम्बर 2017 का परिणाम प्रोजेक्टर के माध्यम से दिखाया गया है वह काफी संतोषजनक हैं जिसमें नोडल अधिकारियों का बहुत अच्छा योगदान है। इस कार्यक्रम  को और बेहतर ढंग से चलाने हेतु अपने क्षेत्र की आशा व ए.एन.एम.  की सूची ले लें। यदि सूची समय से प्राप्त नहीं करायी जाती तो मुख्य चिकित्साधिकारी इसके जिम्मेदार होंगे। इस अभियान में आंगनबाड़ी कार्यकत्री, ग्राम प्रधान व कोटेदारों को भी सम्मिलित किया जाय। ताकि उक्त ग्राम पंचायत का एक भी बच्चा टीकाकरण से न छूटे। उन्होंने कहा कि जिन तहसीलों में ऐसी ग्राम पंचायतें हैं जहां के लोग अपने बच्चों का टीकाकरण नहीं करा रहे हैं उन ग्रामों को चिन्हित करते हुए उप जिलाधिकारी के माध्यम से शत प्रतिशत टीकाकरण अभियान के तहत लगवाये जायें। ताकि जनपद का प्रतिशत शत प्रतिशत हो सके। उन्होंने कहा कि वार्डों में नगर पालिका के अधिशाषी अधिकारी व पार्षदों का सहयोग लेकर टीकाकरण करायें। तभी पूरे बच्चों का टीकाकरण संभव हो सकता है।

उन्होंने कहा कि देश एवं प्रदेश के पोलियो की बीमारी को भगाने में आप कंधे से कंधा मिलाकर यह लाइलाज बीमारी को खत्म किया  है। उसी प्रकार मिशन इन्द्र धनुष के लिए सात बीमारियों में, डिप्थिरिया,काली खांसी,टेटनस,पोलियो,टी बी,खसरा,हेपेटाइटिश बी लाइलाज बीमारियों को दूर करने में सहयोग दें।

इन बैठकों में अपर जिलाधिकारी, मुख्य विकास अधिकारी, मुख्य चिकित्साधिकारी, उप जिलाधिकारी कर्वी, मानिकपुर, जिला विकास अधिकारी,समस्त नोडल अधिकारी व चिकित्सा विभाग के प्रभारी चिकित्साधिकारी उपस्थित रहे।

चिन्हित कराते हुए मतदाता सूची में शामिल किया जाये जिलाधिकारी 

 

 

चित्रकूट  / जिलाधिकारी शिवाकान्त द्विवेदी ने कलेक्ट्रेट सभागार में नोडल अधिकारियों के साथ बैठक ली। नोडल अधिकारियों को निर्देश दिये कि विशेष अभियान 21 जनवरी 2018 को पुनरीक्षण है,के पूर्व अपने क्षेत्रों के बी.एल.ओ. के मोबाइल नम्बर से सम्पर्क करके 01 जनवरी 2018 को 18 वर्ष की आयु पूरी करने वाले महिला/पुरूषों को फार्म नम्बर 06 भरवाकर सूची में शामिल करते हुए मतदाता कार्ड बनायें।

उन्होंने कहा कि इस कार्य को शत प्रतिशत सफल बनाने के लिए ग्राम प्रधान,कोटेदार से सहयोग लें। ताकि लोगों को चिन्हित कराते हुए मतदाता सूची में शामिल किया जा सके, के साथ जिन युवा महिला / पुरूषों की आयु 01.01.2019 को 18 वर्ष आयु पूरी हो रही हो उनकी भी सूची अभी से बना ली जाय। इसके साथ ही साथ जिन मतदाताओं के नाम,पता गलत हैं,के लिए फार्म नम्बर 08 भरायें तथा एक बूथ से दूसरे बूथ में नाम सम्मिलित कराने के लिए फार्म नम्बर 8 ‘ए’ भरा लिये जायें। महिला एवं पुरूषों मतदाता का प्रतिशत भी देखा जाय। बी.एल.ओ/सुपरवाइजर पुनरीक्षण कार्य में लगाये गये हैं वह आपके विभाग के अधिकारी / कर्मचारी हैं उनको सहयोग देकर 21 जनवरी 2018 तक पुनरीक्षण का कार्य शत प्रतिशत पूरा करायें।

उन्होंने कहा कि जिस मतदाता की मृत्यु हो गयी हो और एक स्थान से दूसरे स्थान को चला गया हो नाम दोनों जगह हैं ऐसे मतदाताओं  को सत्यापन के उपरान्त सूची से एक जगह से नाम काट दिया जाय। ग्राम पंचायत में बीएलओ. जाकर सूची को पढ़ें और जो लोग छूटे हैं और 01 जनवरी 2018 एवं 01.01.2019 को 18 वर्ष की आयु पूरी करते हैं तो उनके नाम मतदाता सूची में शामिल किया जाय।

*बड़ी खबर चित्रकूट………..*
———————————————–
*राजकीय इण्टर कॉलेज घुरेटनपुर में, चपरासी बना प्रधानाचार्य*
—————————————-
जिला विद्यालय निरीक्षक व प्रधानाचार्य की सांठगांठ के चलते चौपट हो रहा छात्रो का भविष्य
———————————-
बिना किसी के चार्ज दिए ही प्रधानाचार्य हफ़्तों रहता हैं कॉलेज से नदारद
———————————————–
कॉलेज का चपरासी प्रेमचंद्र जमाए रहता है पीटीए अध्यापकों पर अपनी धाक।
———————————————–
बच्चों का भविष्य पड़ा खतरे में
————————————————
*चित्रकूट* कहने को तो बड़े बड़े दावे किए जा रहे हैं। शिक्षा व्यवस्था सुदृण करने के लिए सरकार मनमाना पैसा पानी की तरह बहा रही है। किन्तु माध्यमिक शिक्षा परिषद भ्रस्टाचार का पार्याय बना हुआ है। विभागीय अधिकारी की सह के चलते राजकीय इंटर कॉलेज घुरेटनपुर में बच्चों के भविष्य को ताक पर रख शिक्षा के नाम पर खेलवाड़ किया जा रहा है। बेहद दिलचस्प बात यह है की इंटर कॉलेज के प्रधानाचार्य की कुर्शी प्रेम सिंह नाम का एक चपरासी सम्हाल रहा है। और प्रधानाचार्य उस चपरासी के भरोसे कॉलेज छोड़कर हफ़्तों गायब रहता है। बता दें आपको जब हम राजकीय इण्टर कॉलेज घुरेटनपुर पहुंचे तो कॉलेज के प्रधानाचार्य की पोल खुलकर सामने आ गई। गौरतलब हो की जब कॉलेज के अध्यापकों से प्रधानाचार्य के बारे में पूंछा गया तो तो उन्होंने इस सम्बन्ध में कुछ भी बोलने से मना कर दिया। हालांकि प्रधानाचार्य की कुर्शी सम्हाले कॉलेज के चपरासी प्रेम सिंह ने बताया की सोमवार को उपस्थित थे। इसके बाद से कार्य भार मैं ही देख रहा हूँ। इसके आलावा चपरासी प्रेम सिंह कॉलेज के पीटीए अध्यापकों पर अपनी धाक जमाकर रखता है। उसका कहना है की मेरे रहते कोई भी अध्यापक इधर उधर घूमता नजर नहीं आ सकता है। अब चिंतनीय बात यह है की यदि चपरासी प्रधानाचार्य की कुर्शी सम्हालेगा और प्रधानाचार्य इसी तरह कॉलेज से अनुपस्थित रहेगा तो कॉलेज में पढ़ने वाले बच्चों का भविष्य क्या होगा।
अब देखना यह की कब ऐसे अध्यापकों पर कारवाही की जाएगी। कब तक चपरासी प्रधानाचार्य की कुरसी संभाले रहेगा और बच्चों के भविष्य के साथ कब तक इसी तरह खेलवाड़ किया जाता रहेगा। क्या भृष्टाचार और क़ानून व्यवस्था के नाम पर सूबे में सत्ता हासिल करने वाली योगी सरकार ऐसे लापरवाह व भृष्ट अध्यापकों पर नाकेल कस पाएगी।आखिर कब तक दबंग प्रधानाचार्य की मनमानी चलती रहेगी क्या कोई कार्यवाही होगी या फाइलों में घोडा दौड़ाकर सब डण्डे बस्ते में ही सिमट कर रह जायेगी ये जाँच का विषय है…???

Ashok Shrivastav

Ashok Shrivastav

State Head Uttar Pradesh

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *