सुबह 10 बजे तक की खास खबर जय प्रकाश तिवारी ब्यूरो चीफ़ जौनपुर से

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

छोटे छोटे बच्चों से पढ़ाने के बजाय ढुल वाया जा रहा सामान।

बरसठी । बरसठी में नन्हे मुन्ने बच्चो को पढ़ाने के बजाय ट्रक से सामान उतरवा कर ढुल वाया जा रहा है।
बरसठी में खंड शिक्षा अधिकारी के कार्यालय कैम्पस में ही प्राथमिक और उच्च प्राथमिक विद्यालय है। जहां जिम्मेदार अधिकारी और कर्मचारी बैठते हैं ,वही पर आज ट्रक से बच्चों के लिए सरकार की तरफ से बांटने के लिए जूता आया हुआ था ।मौके पर तैनात जिम्मेदार ट्रक पर लदे सामान को उतारने के लिए स्कूल के नन्हे नन्हे बच्चो को ही लगा दिए। जबकि सरकार सामान के किराए से लेकर समान को लादने और उतारने के लिए अलग से पल्लेदारी देती है। निर्भीक जिम्मेदार और गुरु जी एक बार भी नही सोच रहे है कि इतना वजन बोरा जिन बच्चों के सिर पर लद वाया जा रहा है ,इस भार को बच्चे उठा भी पाएंगे या नही। यदि इन बच्चों के साथ कोई हादसा हो जाय तो उसका जिम्मेदार कौन होगा ।इस प्रश्न का जवाब शायद किसी के पास होगा। इस दृश्य को देखकर अभिभावकों के साथ साथ सड़क से गुजरने वाले लोगों में भी आक्रोश था ।अभिभावकों ने जिलाधिकारी ,बेसिक शिक्षा अधिकारी का ध्यान लापरवाह ,गैर जिम्मेदार गुरु जी और खंड शिक्षा कार्यालय के अधिकारी और अन्य कर्मचारियों के कार
गुजारी की तरफ आकृष्ट कराना चा हा है।

पत्रकारों के सुरक्षा दिवस पर सौपा गया ज्ञापन

जौनपुर। राष्ट्रीय पत्रकार सुरक्षा दिवस 15 नवम्बर 2017 के अवसर पर उ0प्र0 श्रमजीवी पत्रकार यूनियन (सम्बद्ध आई0एफ0डब्ल्यू0जे0) की जौनपुर इकाई के तत्वाधान में एक प्रतिनिधि मण्डल अध्यक्ष विजय प्रकाश मिश्र के नेतृत्व मे जिलाधिकारी के प्रतिनिधि नगर मजिस्टेªट इन्द्रभूषण वर्मा को महामहिम राज्यपाल के नाम सम्बोधित एक ज्ञापन सौपा। जिसमें पत्रकारों की सुरक्षा उनके कार्य क्षेत्र में सुनिश्चित करने के लिए उ0प्र0 सरकार से सार्थक पहल की माॅग की गयी है।

देश और प्रदेश में आये दिन पत्रकारों पर हो रहे जानलेवा हमलों और उस पर सरकारों द्वारा अपनाये जा रहे संवेदनहीन रवैयो पर पत्रकारों ने क्षोभ व्यक्त किया। पत्रकारों ने महामहिम राज्यपाल से ज्ञापन के माध्यम से माॅग किया है कि देश की संसद पत्रकारों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए एक कानून बनाये जिससे पत्रकार निर्भय और निष्पक्षता पूर्वक अपना कार्य कर सके साथ ही साथ उ0प्र0 सरकार से यह माॅग की गयी है कि भारतीय दण्ड संहिता के अनुच्छेद 7 में बदलाव करके पत्रकारों पर हो रहे हमलों को संज्ञेय अपराध की श्रेणी में लाया जाय। कार्यक्रम का संचालन महामंत्री संतोष कुमार सोन्थालिया ने किया। इस अवसर पर कैलाश नाथ संरक्षक, साजिद हमीद, आदर्श कुमार,कैलाश नाथ मिश्र जय प्रकाश मिश्र, शम्शी अजीज, विद्याधर राय विद्यार्थी प्रेम प्रकाश मिश्र, प्रमोद कुमार पाण्डेय, चन्द्रमणि पाण्डये, मोहरर्म अली, जुबेर अहमद, एके सिंह, मनोज दूबे, अरविन्द्र कुमार पटेल, अनिल तिवारी, मैकुननिशा,महेन्द्र सम्पादक , विरेन्द्र गुप्ता, अरुण यादव, मंगला तिवारी, संतोष कुमार श्रीवास्तव, संजय चैरासिया, अरविन्द्र उपाध्याय, अनूप गौड, संयज शुक्ला, भोले विश्वकर्मा सहित पत्रकार एवं फोटोग्राफर उपस्थित रहे। विजय प्रकाश मिश्र ।

किसान पस्त दलाल मस्त
दलाल ही चला रहे गद्दोपुर की काशी गोमती सम्युक्त ग्रामीण बैक

महराजगंज थाने के अन्तर्गत काशी गोमती सम्युत ग्रामीण बैक गद्दोपुर पूर्ण रूपेण दलालो के चंगुल मे है बिना दलाल की सहमति से एक भी खाता खुलने वाला नही है किसानो के माफ हुए लोन मे भी दलाल एअपना हाथ लगा ही देते है बिना कुछ लिए उनको माफ का प्रमाण पत्र भी नही मिल पा रहा है जिनका माफी प्रमाण मिल गया है उसे दलाल फिर उसी को रेनुवल करवा कर दस से पन्द्रह प्रतिशत कमीशन ले रहे है किसान यह सोचकर कमीशन दे भी रहा है कि फिर किसी की सरकार बनेगी तो कर्ज माफ हो जायेगा यह सोच कर औकात से तिगुना कर्ज लेने से कोई परहैज नही कर रहे है
किसान विजय कुमार सुरेश चन्द बीपत शम्भू रामनरेश अरूण बाबूराम यादव का कहना है कि बिना दलाल की सहमति से किसी का लोन होने वाला नही है वही छात्र चन्दन दीपक प्रदीप का कहना है कि बिना दलाल बचत खाता भी खुलना टेढी खीर है जानकारी के अनुसार बैक के गेट पर एक कम्प्यूटर की दुकान हैवही पर मैनेजर खाता खोलवाने की बात कहता है जो विना दो सौ रूपये रिश्वत लिए जीरो बैलेन्स का खाता ही नही खोलता ! .इस सम्बन्ध मे मैनेजर सदानंद तिवारी का कहना है कि आरोप निराधार है

Ashok Shrivastav

State Head Uttar Pradesh

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: