प्रतापगढ जिले की सुबह 9 बजे तक की खबरें रमेश श्रीवास्तव ब्यूरो चीफ प्रतापगढ से

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

ब्रेकिंग प्रतापगढ़ ॥ परदेश में रह रहे व्यवसायी के घर को चोरों ने किया साफ ॥ घर का दरवाजा टूटा देखकर मुम्बई से गाँव आये दम्पत्ति के उड़े होश ॥ खिड़की के सहारे घर में घुसे चोरों ने जेवर समेत उड़ाये लाखों के माल ॥ पीडित की तहरीर पुलिस ने दर्ज किया मुकदमा ॥ मांधाता थाना क्षेत्र के बलिकरनगंज बाजार का मामला ॥

 

ब्रेकिंग। प्रतापगढ़। जिला अस्पताल प्रतापगढ़ का डीएम शंभु कुमार ने किया औचक निरीक्षण। निरीक्षण के दौरान वार्डो में गन्दगी का अंबार देख डीएम ने सी एम एस को लगाई कड़ी फटकार। मचा हड़कंप।

 

 

प्रतापगढ़।टाउन एरिया सिटी में उड़ाई जा रही चुनाव आचार संहिता की धज्जियां।मतदाताओं को लुभाने के लिए दिन दहाड़े बाटी जा रही शराब,प्रशासन बना अनजान।

ब्रेकिंग। प्रतापगढ़। विकास से अछूता दहिलामऊ उत्तरी और दक्षिणी वार्ड के मतदाताओ ने किया वोट का बहिष्कार। वार्ड के मतदाताओ ने दरवाजे पर वोट बहिस्कार का लगाया बोर्ड। निर्वतमान अध्यक्ष और प्रसाशन के खिलाफ जमकर नारेबाजी। सड़क,बिजली ,सफाई के साथ साथ स्वच्छ पानी की समस्या से जूझ रहे मोहल्लेवासियों ने किया मतदान का बहिष्कार।

प्रतापगढ़ । जिला अस्पताल पुरूष में जिलाधिकारी ने बाल दिवस के अवसर पर मरीजो को किया फल वितरित,
पुरूष चिकित्सालय के इमरजेन्सी वार्ड में गन्दगी देखकर मुख्य चिकित्सा अधीक्षक को लगायी फटकार
बाल दिवस के अवसर पर प्रत्येक वर्ष की भॉति इस वर्ष भी लेखपाल संघ द्वारा फल का वितरण मरीजों को जिलाधिकारी श्री शम्भु कुमार, मुख्य राजस्व अधिकारी श्री राम सिंह वर्मा एवं अपर जिलाधिकारी श्री सोमदत्त मौर्य द्वारा किया गया। फल वितरण के समय इमरजेन्सी वार्ड में गन्दगी, इमरजेन्सी के मुख्य द्वार पर खून के धब्बे तथा किनारे काफी मात्रा में गन्दगी पड़ी थी और मरीजों के चारपाई के पास डिस्पोजल सिरिन्ज और जगह-जगह पर वार्डो में गन्दगी को देखकर जिलाधिकारी ने मुख्य चिकित्सा अधीक्षक प्रेम मोहन गुप्ता को कड़ी फटकार लगायी। जिलाधिकारी के द्वारा पूर्व निरीक्षण में भी मुख्य चिकित्सा अधीक्षक को सफाई और अस्पताल के रखरखाव के बारे में चेतावनी दी जाती रही लेकिन उसके बावजूद भी मुख्य चिकित्सा अधीक्षक द्वारा अपने कार्य प्रणाली में किसी तरह का कोई सुधार नही किया गया, हमेशा अधिकारियों को अंधेरे में रखने की इनके द्वारा कोशिश की गयी। जिसके लिये जिलाधिकारी ने मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 आर0के0 नैय्यर को निर्देशित करते हुये कहा कि अस्पताल में साफ-सफाई व्यवस्था के सम्बन्ध में मुख्य चिकित्सा अधीक्षक, ई0एम0ओ0 डाक्टर अनुज, स्टाफ नर्स सावित्री देवी और सफाई कर्मी दिलीप कुमार और मनोज कुमार द्वारा की जा रही शिथिलता के सम्बन्ध में अवगत कराना सुनिश्चित करें। जिला अस्पताल के इमरजेन्सी वार्ड में अवारा पशुओं को देखकर जिलाधिकारी ने मुख्य चिकित्सा अधीक्षक से पूछा कि अस्पताल में अवारा पशुओं के आने जाने के सम्बन्ध में आप द्वारा क्या किया गया है, इसके लिये लिखित रूप में अवगत कराये।

प्रतापगढ़ । हादीहाल में नगरीय निकाय निर्वाचन-2017 के द्वितीय चरण का दो दिवसीय प्रशिक्षण प्रारम्भ
शहर के हादीहाल में नगरीय निकाय निर्वाचन 2017 के द्वितीय चरण के दो दिवसीय प्रशिक्षण मुख्य विकास अधिकारी श्री राजकमल यादव के नेतृत्व में प्रारम्भ हुआ। प्रशिक्षण में मुख्य रूप मास्टर ट्रेनर के रूप में विवेक कुमार, मो0 अनीस, अशोक कुमार वैश्य, राज किशोर मिश्र एवं मीनाक्षी मिश्रा आदि के द्वारा प्रशिक्षण दिया गया। प्रशिक्षण सत्र को सभी मास्टर ट्रेनर ने पावर प्वाइन्ट एवं अन्य महत्वपूर्ण बिन्दुओं पर चर्चा की और कार्मिको द्वारा उठायी गयी समस्याओं का बिन्दुवार हल किया और उन्हें पूर्ण रूपेण से समाधान किया गया।
नगरीय निकाय सामान्य निर्वाचन-2017 का मतदान निष्पक्ष, सकुशल एवं शान्तिपूर्ण कराने के लिये जिला निर्वाचन अधिकारी श्री शम्भु कुमार ने तुलसीसदन हादीहाल में पीठासीन अधिकारियों और मतदान अधिकारी को प्रशिक्षण देते बताया कि प्रशिक्षण में जो बात समझ में न आये उसे दुबारा पूछ कर जानकारी कर ले इसलिये कि मतदान के समय एक छोटी सी कमी बहुत बड़ी हो जाती है। मतदान में लगे जिन कर्मियों को जो भी काम दिया जाये उसे निष्ठा पूर्वक निभाये। पीठासीन अधिकारी ने अगर लिखकर दे दिया कि मतदान कर्मी मतदान का कार्य नही कर रहा है तो उसके खिलाफ कार्यवाही की जायेगी। मतदान कर्मी अपनी पूरी टीम के साथ मतदान सामग्री प्राप्त करने के बाद यह देख ले कि समस्त सामग्री है कि नही और अगर नही है तो पुनः प्राप्त कर ले। पीठासीन अधिकारी समस्त मतदान कर्मियों के साथ शासन द्वारा उपलब्ध करायी गयी गाड़ी का ही प्रयोग करें अपने निजी वाहन अथवा प्राइवेट वाहन का प्रयोग न करें। मतदान के समय मतदाता कर्मी सर्वप्रथम मतदाता का परिचय पत्र प्राप्त कर मतदाता सूची में मिलान कर लें उसके उपरान्त मतदान के लिये मतपत्र उपलब्ध कराये और मतदान कर्मी मतदाता के बाये हाथ की अंगुली पर अमिट स्याही लगाये जिससे कि पुनः वह मतदान न कर सके। हर टीम में एक महिला कर्मी रखी जा रही है जो कि महिला मतदाताओ की पहचान करेगी। एक समय में मतदान कक्ष में तीन व्यक्ति ही उपस्थित रहेगे और विकलांग मतदाताओ को प्राथमिकता के आधार पर मतदान कराया जाये। मतदान के समय प्रत्येक बूथ पर पर्याप्त पुलिस बल और सुरक्षाकर्मी उपलब्ध रहेगे। उन्होने यह भी बताया कि राजकीय इण्टर कालेज से पार्टिया रवाना की जायेगी और समस्त मतदान सामग्री वहीं से प्राप्त की जा सकती है। अध्यक्ष और सभासद के लिये अलग-अलग मतपत्र और बैलेट बाक्स होगे। प्रशिक्षण के समय मुख्य विकास अधिकारी श्री राजकमल यादव, उप जिला निर्वाचन अधिकारी श्री राम सिंह वर्मा, अपर जिलाधिकारी श्री सोमदत्त मौर्य, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी बी0एन0 सिंह उपस्थित रहे।

 

ब्रेकिंग।प्रतापगढ़। भाजपा की गुटबाजी में चुनावी कार्यालय पर पसरा सन्नाटा ! निवर्तमान नगरपालिका अध्यक्ष हरि प्रताप सिंह ने खुद थाम रखी है चुनाव की कमान। अपने आवास से कर रहे चुनावी प्रचार का संचालन। लाखों रूपये खर्च कर भाजपा कार्यालय पर प्रेम लता सिह के चुनावी कार्यालय का हुआ था उदघाटन। हरि प्रताप सिंह की पत्नी प्रेमलता सिंह हैं भाजपा से नगर पालिका अध्यक्ष पद की प्रत्याशी।

 

कर्जमाफी की सूची से छूटने वाले किसानों को मिली राहत, माफ होगा कर्ज*

प्रतापगढ़। कर्जमाफी की सूची में जिन किसानों का नाम नही हैं, उनके के लिए राहत भरी खबर है। योगी सरकार ने मानक पूरा करने वाले किसानों का कर्ज माफ करने का एक मौका और देने का फैसला किया है।
योगी सरकार ने कर्जमाफी से वंचित किसानों को एक और मौका देने का फैसला लिया है। बैंकों की चूक के चलते जिन किसानों का डाटा नहीं भेजा गया था। उन किसानों की नई सूची तैयार करके कर्जमाफी में शामिल किया जाएगा। जिले के अधिकांश किसान ऐसे हैं, जो कर्जमाफी का मानक पूरा करने के बाद भी उनका नाम सूची से बाहर कर दिया गया है। किसानों की शिकायत पर सीएम ने बैंकों से प्राप्त डाटा को मानवीय भूल मानते हुए छूटे किसानोंको अंतिम मौका देेने का फैसला लिया है।
जिले के लगभग ग्यारह हजार किसान ऐसेे हैं, जो कर्जमाफी का मानक तो पूरा कर रहे हैं, मगर उनका नाम सूची में नहीं होने के कारण माफ नहीं हुआ था। ऐेसे किसान कभी अधिकारी तो कभी बैंक का चक्कर लगा रहे थे। अधिकारियों की ओर से नकारात्मक जवाब मिलने से ये किसान मायूस हो गए थे। एलडीएम एएन सिंह ने बताया कि छूटे हुए किसानों का नाम सूची में सम्मिलित नहीं किया जा सकता है। इसलिए ऐेसे किसानों की नई सूची तैयार की जा रही है।

Ashok Shrivastav

State Head Uttar Pradesh

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: