।।जानिये लम्भुआ की कौन सी एएनएम अपने दबंगई से एक ही स्थान पर लगभग पच्चीस वर्षो से टिकी।।

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

जितेंन्द्र श्रीवास्तव
न्यूज मिरर व्यूरो
सुल्तानपुर.

सुलतानपुर-लम्भुआ सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र के प्रभारी चिकित्सा अधीक्षक और एएनएम के बीच काफी समय से विवाद चला आ रहा है। विवाद को समाप्त करा पाने में जिले का स्वास्थ्य विभाग नाकाम साबित हुआ। मामले को सुलझाने के लिए मुख्य चिकित्साधिकारी ने आखिरकार प्रभारी चिकित्सा अधीक्षक और एएनएम दोनों का स्थानान्तरण कर दिया।

ए एन एम पहले भी रह चुकी है विवादों के घेरे में – जी हा ए वही एएनएम है जो लगभग 2 साल पहले मु0 हामिद की पुत्री सबरीना की डिलवरी थी जिसको चन्द पैसो के लालच में रोक रखी थी,हामिद के बार बार कहने के बाद जब मरणासन स्थिति में हो गई तो काफी जोर दबाव के बाद मरीज को जिला अस्पताल सुल्तानपुर रिफर कर दिया जहाँ आपरेशन के बाद मृतक बच्चा पैदा हुआ डॉक्टरों ने कहा कि लाने में देर कर दिए,मुख्यमंत्री अखिलेश यादव से शिकायत भी हुई लेकिन विवादित एएनएम शकुन्तला ने सपा सरकार में मेरा कोई कुछ नही कर सकता और कुछ हुआ भी नही क्यों कि रौब सरकार का था,

नही चला भाजपा की सरकार में एएनएम का जादू?-: वही रौब इस भाजपा की सरकार में एएनएम जमाना चाहती थी लेकिन शख्त सरकार में काफी शिकायतों के बाद मुख्यचिकित्सा अधिकारी ने लगभग पचीसों साल बाद एक दूसरे विवाद में दबंग विवादित एएनएम का तबादला कर दिया।।

लम्भुआ सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पर पिछले काफी समय से तैनात प्रभारी चिकित्सा अधीक्षक डा. प्यारेलाल गुप्ता का एएनएम शकुन्तला यादव से विवाद चल रहा था। जिसको लेकर स्वास्थ्य कार्यकत्रियों ने कई बार आंदोलन भी किया। स्वास्थ्य कार्यकत्रियों का आरोप था, कि डॉक्टर प्यारेलाल उनके साथ अभद्रता करते हैं, साथ ही उनका व्यवहार ठीक नहीं है,
डॉक्टर प्यारेलाल की अभद्रता से आजिज आकर, मातृ शिशु कल्याण महिला कर्मचारी संघ के बैनर तले इन लोगों ने कई बार आरोपी डॉक्टर के खिलाफ प्रदर्शन भी किया। तथा आरोप यह भी था कि इसके पहले सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र दूबेपुर से भी विवादों के चलते इनका स्थानांतरण लंभुआ हुआ था। इन लोगों ने इसकी शिकायत अपर महानिदेशक परिवार कल्याण फैजाबाद समेत जिलाधिकारी और सीएमओ से भी की थी।
मामले की गम्भीरता को देखते हुए, प्रकरण की जांच भी कराई गई। दोनों पक्षों में सुलह कराने की कोशिश हुई लेकिन महिला स्वास्थ्यकर्मी किसी भी कीमत पर बात मानने को तैयार नहीं हुईं। मामले को शांत कराने के लिए सीएमओ डॉ.सीबीएन त्रिपाठी ने प्रभारी चिकित्साधीक्षक डॉ. प्यारेलाल गुप्ता का स्थानान्तरण कूरेभार सीएचसी कर दिया और एएनएम को धनपतगंज भेज दिया।

अपना तबादला रोकवाने का भरपूर प्रयास जारी:-

विवादित एएनएम शकुन्तला यादव द्वारा आज भी अपना तबादला रोकवाने का भरपूर प्रयास जारी है लेकिन अब देखना यह है कि इस सरकार में इनका तबादला रुकता है या नही।।

अब देखना यह भी है कि कूरेभार में इनका कार्य व्यवहार कैसा रहता है।

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

Ashok Shrivastav

State Head Uttar Pradesh

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: