जितेंन्द्र श्रीवास्तव रीजन हेड न्यूज मिरर फैजाबाद से सुल्तानपुर की खास ख़बरें

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

दीपू सिंह ‘ जेल प्रशासन पर बनाता था राजनैतिक दबाव-जेल अधीक्षक*

—————————————
सुल्तानपुर।गैंगस्टर समेत अन्य मामलों में निरुध्द बंदी को बगैर कोर्ट की अनुमति के दूसरे जेल में शिफ्ट करने के मामले में स्पेशल जज विनय कुमार सिंह ने जेल अधीक्षक से जवाब तलब किया था।जेल अधीक्षक अमिता दुबे ने अपनी रिपोर्ट में बंदी प्रदीप के जरिये राजनैतिक दबाव बनवाने समेत अन्य गम्भीर तथ्य दर्शाये है।
मालूम हो कि लंभुआ थाना क्षेत्र के बूधापुर निवासी प्रदीप सिंह को भाजपा नेता सियाराम सिंह हत्याकांड व गैंगस्टर सहित अन्य मामलो में निरुध्द किया गया है।जिसे जेल प्रशासन ने ट्रायल कोर्ट की रोक के बावजूद बगैर अनुमति के ही बरेली सेंट्रल जेल में शिफ्ट कर दिया है।प्रदीप सिंह की ओर से उसे कई बीमारियों से पीड़ित बताते हुए दूसरे जेल से बार-बार पेशी पर आने से परेशानी होने का तथ्य रखते हुए जेल प्रशासन की कार्यशैली पर आपत्ति जताई गई है।इस सम्बंध में स्पेशल जज गैंगस्टर एक्ट विनय कुमार सिंह ने पिछली पेशी पर 19 जनवरी के लिए जेल अधीक्षक से जवाब मांगा था,फिलहाल इस मामले में उस दिन जेल अधीक्षक की ओर से कोई रिपोर्ट नहीं भेजी गई।अदालत ने मामले में 22 जनवरी की तिथि नियत कर जेल अधीक्षक से पुनः जवाब मांगा था।सोमवार को जेल अधीक्षक अमिता दुबे की ओर से गैंगस्टर कोर्ट में रिपोर्ट दाखिल की गई है।जिसमे प्रदीप को जेल में गुटबाजी कर अपराध को बढ़ावा देने,जेल की व्यवस्था को बिगाड़ने व उसे रोकने पर राजनैतिक व अन्य प्रकार से जेल प्रशासन पर दबाव बनाने का तथ्य पेश किया है।इन्ही कारणों से प्रदीप को अन्य जेल में शिफ्ट करने की बात कही गई है। फिलहाल इस बात पर अगले पक्ष का क्या तर्क रहता है इस पर सुनवाई के लिए आगामी 27 जनवरी की तिथि नियत की गई है।

 

*रेलवे स्टेशन सुल्तानपुर में शुरू हुई वाई फाई की सुविधा*

 

सुल्तानपुर-रेलवे स्टेशन जंक्शन पर शुरू हुई वाई फाई की सुविधा,आज से यात्रियों को मिलेगी वाई फाई इंटरनेट की फ्री सुविधा,रेल टेल के माध्यम से मिलेगी आने जाने वाले यात्रियों इंटरनेट की फ्री सुविधा,रेल टेल इंजीनियर प्रदीप सिंह की मेहनत लाई है रंग,आज से शुरू हुई रेलवे स्टेशन पर वाई फाई की सुविधा,अब स्टेशन पर बैठे यात्री आसानी से रेलवे द्वारा दिये गए वाई फाई की सुविधा से ले सकेंगे अपने यात्रा करने वाले ट्रेन की सही जानकारी,आसानी से ले सके यात्री अपने ट्रेन का करेंट स्टेटस,रेलवे स्टेशन के 50 से 100 मीटर के दूरी में काम करेगा रेल वाई फाई नेटवर्क,रेलवे स्टेशन के सभी प्लेटफार्म,वेटिंग रूम,पीआरएस,आरपीफ,जीआरपी को किया गया वाई फाई से लैस।

: खबर का हुआ असर-

।।नवयुवक मीडिया वालो के सामने झुकना पड़ा मीडिया के साथ बत्तमीजी करने वाले शिक्षक को।।

 

क्राइम व भ्रष्टाचार विरोधी मोर्चा के पत्रकार गजेश्वर सिंह एवं मीडिया जगत को गाली दिए जाने के कारण मीडिया कर्मियों के द्वारा सुल्तानपुर – कोतवाली कादीपुर का घेराव समय लगभग 1:00 बजे कर लिया गया जहां जगदीश प्रताप सिंह शिक्षण एवं प्रशिक्षण संस्थान टी. पी. नगरा (सूरापुर) के प्रबंधक राघवेंद्र प्रताप सिंह उर्फ (ढुंनमुन) सिंह ने सार्वजनिक रूप से कोतवाली में मीडिया कर्मियों के खिलाफ कहे गए गाली गलौज के लिए क्षमा याचना मांगी जिस पर उपस्थित वरिष्ठ पत्रकार रमाकांत बरनवाल, रमेश त्रिपाठी, शिव प्रकाश तिवारी, सुधीर सिंह, मनोज पांडे, प्रभाकर मौर्य, सुनील कुमार, हरिशंकर सोनी, रामजी मिश्रा, प्रेम शंकर पांडेय, अमित कुमार सिंह (पिंकूू)अजीम अहमद खान की उपस्थिति में सुलह समझौता पर बिचार बिमर्स किया गया।

कवरेज करने पर की थी बत्तमीजीया-:क्राइम रिपोर्टर द्वारा कवरेज करने गए बिना मान्यता के विद्द्यालय के शिक्षक प्रबंधक द्वारा पत्रकार को धमकी देते हुए पूरे मीडिया जगत को गाली दी थी।।

जानते है क्या था मामला-:योगी सरकार ने बिना मान्यता प्राप्त विद्द्यालयो को तत्काल प्रभाव से बंद करने का निर्देश दे चुकी है,और आदेशो की अवहेलना करने वालो पर सख्त कार्यवाही करने का निर्देश दिया,लेकिन शिक्षा माफियाओ का कोई कुछ नही करसकता क्योंकि शिक्षा अधिकारियों को तो पैसा चाहिए इसपर खण्ड शिक्षा अधिकारी कादीपुर द्वारा स्कूल को कई बार स्कूल बन्द करने का नोटिस दिया और लेकर विद्द्यालय चलने दिया गया,
रिपोर्टर की जानकारी-:आप सभी को भी ये जानकारी है कि योगी सरकार ने बच्चो का भविष्य सवारने के लिए मान्यता विहीन स्कूलों को बंद करने का आदेश देते हुए अब 5 साल तक मान्यता न देने का आदेश पारित किया है,

अब सवाल यह उठता है कि यदि इस स्कूल की मान्यता थी तो शिक्षा अधिकारी द्वारा बन्द करने का नोटिस क्यों दिया जाता और यदि नोटिस दिया गया तो स्कूल चल क्यों रहा है,और चल रहा है तो मान्यता कैसे मिली क्यों कि मुख्यमंत्री का आदेश है कि 5 साल तक किसी स्कूल को मान्यता न देने का आदेश पारित है,अब बात ये उठती है कि शिक्षा अधिकारी शिक्षा माफियाओ के हांथो बिक चुके है या फिर शिक्षा माफिया इतने दबंग है कि शिक्षा अधिकारियो की उनसे डर लगता है।।

*सुविधा शुल्क दो मुआबजे का पैसा लो*–

 

पखवारे भर पहले से भूमि अध्याप्ति कार्यालय में पत्रावली आ चुकी है, मुआबजे के पैसे के लिए पीड़ित चक्कर लगा रहा है।बैनामा 29 नवंबर को हो चुका है।भुगतान के लिए सप्ताह भर बहुत है।मामला जयसिंहपुर के चांदपुर गांव का है।जयसिंहपुर में नायब तहसीलदार शिव नरेश कार्यालय में तैनात बाबू से काम लेने के बजाय प्राइवेट कर्मी से काम ले रहे है वह भी नायब के आवास पर बैठकर काम निपटा रहा है।मुआबजा उसी के खाते में तत्काल भेजा जा रहा जिसमे अच्छी खासी रकम ली गई है।यही हाल कलेक्ट्रेट में स्थित कार्यालय का भी है,यहां पर तैनात बाबू विवेक से जब सप्ताह भर पहले मिला तो कहे सोमवार को खाते में पहुंच जाएगा।जब दोबारा सोमवार के बाद मंगलवार को मिला तो कहे अभी सितम्बर का जा रहा है,जब अनुरोध किया तो कहे कि सीआरओ साहब जाने।यह तो बानगी भर है,इस कार्यालय पर नजर डाली जाए तो किसानों व बिचौलियों की भीड़ लगी रहती है।यही नही इसके बाद हुए बैनामो का भुगतान हो भी चुका है।किसानों में आक्रोश।

*मतदाता जागरूकता को लेकर रुदौली डिग्री कालेज ने छात्रों को दिलाई गयी शपथ*

 

 

 

भेलसर(फैजाबाद)रुदौली डिग्री कॉलेज में मतदाता जागरूकता को लेकर छात्रों को देश के लोकतांत्रिक व्यवस्था को सुदृढ़ बनाने व निष्पक्ष चुनाव कराने के लिए संकल्प दिलाया गया। महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ.हरिशंकर शुक्ल के नेतृत्व में छात्रों को मतदान के प्रति जागृत किया गया।
कहा गया कि जो छात्र 18 वर्ष के हो गए हैं वह मतदान दिवस को पर्व के रूप में मनाएं तथा अन्य लोगों को मतदान के लिए प्रेरित करें।साथ में यह भी बताया गया कि यदि प्रत्याशी पसंद नहीं है तो नोटा का इस्तेमाल करें। प्राचार्य ने बताया कि मतदाता जागरूकता को लेकर जल्द ही महाविद्यालय में वाद विवाद,मेहंदी,रंगोली व पेंटिंग प्रतियोगिता का आयोजन किया जाएगा। इन सभी प्रतियोगिताओं का वालंटियर बी. कॉम तृतीय वर्ष की छात्रा विभा गुप्ता को बनाया गया है। प्रतियोगिता में प्रथम, द्वितीय व तृतीय श्रेणी में विजयी छात्र छात्राओं को प्रणाम पत्र देकर सम्मानित किया जाएगा।कार्यक्रम में डॉ. श्रद्धा उपाध्याय, बलराम तिवारी सहित अन्य स्टाफ व भारी संख्या में छात्र छात्राएं मौजूद रहें।

Ashok Shrivastav

State Head Uttar Pradesh

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: